Bhojpuriya Villains Presents A Unique Example At 12th Bhojpuri Film Award 2017

भोजपुरिया खलनायको ने पेश किया मिसाल

अवधेश मिश्रा ने अपना अवार्ड सुशील सिंह को सौंपा ।

भोजपुरी खलनायको के ग्रुप एन्टी हीरोज हमेशा से अपनी एकता के लिए जाने जाते हैं  । उन लोगो की एकता कितनी अधिक है उसका एक उदाहरण 12 वें भोजपुरी फ़िल्म अवार्ड के बाद देखने को मिला । अवार्ड में बेस्ट विलेन का अवार्ड हर साल की तरह इस साल भी अवधेश मिश्रा को दिया गया लेकिन अवधेश मिश्रा ने अवार्ड पाते ही कहा कि इस अवार्ड के हकदार वे नही सुशील सिंह हैं क्योंकि मोकामा 0 किलोमीटर में सुशील सिंह का अभिनय लाजवाब है । आयोजको ने बताया कि किन्ही कारणों से मोकामा 0 किलोमीटर के निर्माता ने फ़िल्म को अवार्ड में शामिल नही किया था इसीलिए उन्हें यह अवार्ड नही मिल पाया । समारोह के अगले दिन अवधेश मिश्रा की पहल पर अवार्ड सेलिब्रेशन पार्टी का आयोजन किया गया । इस पार्टी में मुम्बई में मौजूद सभी खलनायको ने शिरकत की ।

पार्टी अपने शबाब पर थी कि अवधेश मिश्रा ने सुशील सिंह को अपना अवार्ड सौंप दिया । वहां मौजूद खलनायको संजय पांडे , दीपक सिन्हा, अनूप अरोरा , अयाज खान , समर्थ चतुर्वेदी , मटरु सिंह , देव सिंह , संतोष पहलवान , सुवोध सेठ , पप्पू यादव , बबलू खान , असगर खान , अकबर सिद्दीकी , भुपेंद्र सिंह , पंकज तिवारी और प्रचारक उदय भगत ने करतल ध्वनि से इसका स्वागत किया । यह पल सुशील सिंह के लिए भावुक पल था क्योंकि कई सालों से भोजपुरिया पर्दे पर अपने अभिनय का सिक्का जमा चुके सुशील सिंह का यह पहला अवार्ड था । उन्होंने भावुक होकर कहा कि इस से बड़ा अवार्ड शायद ही किसी को मिला होगा । उन्होंने एन्टी हीरोज को धन्यवाद दिया । इस मौके पर सर्वसम्मति से यह प्रस्ताव पास हुआ कि बेस्ट विलेन का अवार्ड अब से हर अवार्ड शो में एंटी हीरोज ही तय करेंगे । बहरहाल , फ़िल्म जगत में ऐसा पहली बार हुआ है कि जब किसी ने अपना अवार्ड किसी और को सौंपा है । अवधेश मिश्रा के इस कार्य की हर जगह तारीफ हो रही है । –Uday Bhagat (PRO)

Print Friendly, PDF & Email