जपुरी फिल्म निर्माण क्षेत्र में उतरीं निर्मात्री पल्लवी प्रकाश !

बहुमुखी प्रतिभा की धनी फिल्म और टेलीविजन धारावाहिक निर्मात्री, लेखिका, और प्रख्यात मोटिवेशनल गुरु पल्लवी प्रकाश आज के युग में कामयाबी की एक जीती जागती मिसाल हैं । देश के विभिन्न क्षेत्र में कामयाब महिलाओ की श्रेणी में पल्लवी प्रकाश तेजी से अपना वर्चस्व स्थापित करते जा रही हैं । पल्लवी की अब तक तीन किताबें और समामयिकी से जुड़ी लगभग एक हजार से ज्यादा आर्टिकल्स विभिन्न हिंदी और अंग्रेजी अखबारों में प्रकाशित हो चुके हैं । उनकी बहुचर्चित पुष्तक डायनामिक्स ऑफ़ सक्सेस की अपार सफ़लता ने पल्लवी को मोटिवेशनल गुरु बना दिया । लेखक के साथ वर्कशॉप सेमिनार,से वो 5000 से भी ज्यादा प्रोफेशनल एवम् युवा छात्रो को प्रभावित कर चुकी है ।

Pallavi Prakash Pallavi Prakash1

पल्लवी के बहुमुखी व्यक्तित्व के कार्यो की सफलता को देखकर हाल ही में दिल्ली के सी.सी.ई.टी में आयोजित एक भव्य समारोह में में उन्हें सीबीआई के निदेशक अनिल कुमार सिंह के हाथों चित्रांश गौरव् अवार्ड ‘से नवाजा गया । पल्लवी कहती है के पुरे समाज एवम् खासकर युवाओ की उन्नति के लिए वो आगे भी अपने कार्य को पूरी निष्ठा के साथ जारी रखेगी । अपने विचार और क्रिएटिविटी को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक शीघ्र पहुंचाने के लिए पल्लवी ने टेलीविज़न एवम् फिल्म प्रोडक्शन का माध्यम चुना । उनकी प्रसिद्ध टेलीविज़न धारावाहिक ‘प्रणाम भारत’ है जो की उन्होंने ETV के लिए बनायीं है, एक सांस्कृतिक शो है ।

2016 में पल्लवी प्रकाश इंटरनेशनल के बैनर में बनी पहली भोजपुरी फिल्म शीघ्र ही बड़े पर्दे पर नज़र आएगी । फिल्म ‘मोहब्बत के सौगात’ नारी सशक्तिकरण पर बनी रोमांस और रोमांच से भरपूर फिल्म है । इस फिल्म के निर्देशक ब्रजभूषण है जो की एक अनुभवी और जानेमाने निर्देशक हैं । इस फिल्म मोहब्बत के सौगात में मुख्य भूमिका में भोजपुरी फिल्म जगत के नामी चेहरे हैं । खूबसूरत गानो से परिपूर्ण यह एक आधुनिक मनोरजक फिल्म होगी । फिल्म की शूटिंग जल्द ही बिहार और दिल्ली में की जाएगी ।

इस साल के अंत तक यह फिल्म बड़े परदे पर रिलीज़ करने का भी अनुमान है । इस फिल्म को कॉर्पोरेट, समाजसेवी और राजनेताओं का भी पूरा सहयोग मिल रहा है । क्योंकि यह एक सोशल थींम पर आधारित फिल्म है । निर्मात्री पल्लवी प्रकाश की दूसरी प्रोजेक्ट एक हिंदी फिल्म है जो कि युवाओ को प्रेरित करेगी । पल्लवी भविष्य में भी समाज को फिल्मों के लेखन एवम् दूसरे कार्यो से बेहतर बनाने के क्षेत्र में अपना सहयोग देती रहेंगीं ।

 

Print Friendly, PDF & Email